आगे

मास्टर और शिष्यों के बीच

टिम को टू का प्रेम विजयी होगा, नौ भाग शृंखला का भाग ४

2020-07-02
भाषा:English

प्रकरण

विवरण
डाउनलोड Docx
और पढो

“मैं विनम्रतापूर्वक इस असाधारण प्यार के लिए सभी को धन्यवाद देती हूं। भगवान आप सबको आशीर्वाद दें। और टिम को टू को आप नए दायरे में ले जाने दें जहाँ आप हमेशा के लिए गौरव में रहोगे। कम से कम चौथे स्तर पर। तथास्तु। आप सभी को बहुत, प्यार। XXXXX।”

आप मुझसे सवाल पूछना चाहते हैं? या मुझे इस तरह से ब्ला, ब्ला करने दें? बहुत सारे हैं। अभी भी बहुत हैं। ( जी हाँ, कृपया। ) मैंने उत्तर के... नेता के लिए प्रार्थना की मैंने कहा, “वह अच्छा लड़का है।” ( जी हाँ। ) “कृपया उसकी मदद करें।” जानकारी के देवता ने मुझे बताया, “उत्तर के भगवान से पूछो...” प्रत्येक देश में एक ईश्वर है। ( वाह! ) इसकी देखरेख करने के लिए। तो, ठीक है, उसने मुझे उसके बारे में बताया, लेकिन मैं आपको यहां नहीं बताना चाहती हूँ। (ठीक है, मास्टर।) मैंने बस उसके लिए, उत्तर के....नेता के लिए, अपने दिल में प्रार्थना की। और मैंने इसे यहाँ लिखा लिया। मैंने कहा, “वह एक अच्छा लड़का है।” मैंने यू के में श्री बोरिस के लिए भी, पहले प्रार्थना की (जी हाँ।) क्योंकि उसे कोविड था, और उसे अस्पताल ले जाना पड़ा। तो मैंने कहा, “वह एक अच्छा लड़का है। कृपया उसकी मदद करें। अगर ज़रूरी है तो मुझे उसके कर्म लेने दें।” (ओह, मास्टर।) इसलिए, मैं बहुत खुश थी, एक हफ्ते बाद या कुछ वह घर आ गया। ( जी हां। ) (ओह, गुरुजी ने उन्हें आशीर्वाद दिया।)

 

उत्तर... के लिए, हमारे पास पहुंच नहीं है, इसलिए यह ठीक है, मैं भीतर बस प्रार्थना करती और जांच करती रहती हूं। लेकिन वह भी, यह ठीक होगा। (जी हाँ, मास्टर।) उन्होंने शांति और उस सब के बारे में भी बात की। लेकिन मैं आपको बताने के लिए सुविधाजनक नहीं हूं। (ठीक है, मास्टर।) ओह, अच्छा। नहीं, मैं आपको यह भी नहीं बता सकती। (जी हाँ, मास्टर।) वे कहते हैं, “यदि आप बताना चाहते हैं, तो आपको इसे एक कोड में बताना होगा। आप चीजों को खुलकर नहीं बता सकते।” हर बार नहीं। लेकिन कोड मैं यहाँ नहीं लिख सकती। (ठीक है।) इसलिए कोष्ठक में मैं कहती हूं, ‘‘(ठीक है, मुझे पता है, मुझे पता है, मैं वैसा करूंगी। आपको आभारी धन्यवाद। हालांकि हम समान स्थिति के नहीं हैं लेकिन वहाँ प्यार है।)” मतलब मैं उत्तर के भगवान को कहती हूं.... जिन्होंने मुझे यह और वह बताया। (ओह।) और युद्ध के देवता और वह सब और जानकारी के देवता भी, मैंने उन्हें धन्यवाद दिया।

 

और फिर, उसने मुझे यह भी बताया, “प्यार जीत जाएगा।” (वाह।) मैंने कहा, “मुझे बताओ। किस तरह का प्यार, कौन सा प्यार, किसका प्यार?” उद्धरण चिह्न फिर से। पहले, उसने उद्धरण चिह्नों में, “प्यार जीतेगा।” और मैंने कहा, “मुझे और बताओ कौन सा प्यार, कौन सा प्यार?” तो, उद्धरण चिह्नों: “आपका, और ओ यू में मूल प्राणियों का (मूल ब्रह्मांड)। (ओह। वाह।) इहोस कर देवता।” तो, कोष्ठक: (“असीम धन्यवाद और असीम प्यार।”) और फिर कई चीजें हैं जो मुझे कहने के लिए नीचे ले जाती हैं, “वाह।” “स्वर्ग और पृथ्वी और सभी प्राणी बहुत ही चिंतित और सुरक्षात्मक हैं।” सभी मुझे बता रहे हैं, कहीं, कहीं, कहीं नीचे नहीं जाओ। क्योंकि यह सुरक्षित नहीं है। मकड़ी ने भी आकर मुझे वह बताया। (वाह।) कुत्ते ने भी बेशक। “मैं विनम्रतापूर्वक इस असाधारण प्यार के लिए सभी को धन्यवाद देती हूं। भगवान आप सबको आशीर्वाद दें। और टिम को टू को आप नए दायरे में ले जाने दें जहाँ आप हमेशा के लिए गौरव में रहोगे। कम से कम चौथे स्तर पर। तथास्तु। आप सभी को बहुत, प्यार। XXXXX।” वे मुझसे कहते रहते हैं, “प्यार की जीत होगी।” हाल ही में भी। (जी हाँ, मास्टर।) मुझे उच्च उम्मीद देने के लिए मैं उन्हें धन्यवाद देती हूं। ( हम समझते हैं, मास्टर। ) लेकिन उन्होंने मुझे ठीक दिन, महीने और साल और सप्ताह के बारे में बताया, लेकिन मैं आपको बताना नहीं चाहती। ( जी हां, मास्टर। ) उन्होंने मुझे यह सब और वह बताया और यह कब होगा और फिर वे कहते हैं, “क्योंकि प्रेम ही जीतेगा।”

 

इसलिए, मैंने उनसे पूछा, मुझे दुनिया भर में एक और सुरक्षात्मक चक्र डालना चाहिए?” मैंने उनसे पूछा या नहीं, सवालिया निशान। मैं इसे इस तरह नहीं लिखती हूँ। मैं इसे मूल रूप से कहती हूं, “क्या दुनिया भर में इस तरह का विशाल चक्र डालें?” प्रश्न चिन्ह। मैं नहीं कहती, “क्या मुझे डालना चाहिए?” मैंने कहा, “डालो ?” और प्रश्न चिह्न। (जी हाँ।) वह मूल भाषा है। मैं इसे त्वरित और सरल लिखती हूं। तो, जो इस तरह के सुरक्षात्मक चक्र के लिए जिम्मेदार हैं, भगवान मुझे बताते हैं, “हां।” उद्धरण चिह्नों में। और मैं पूछती हूं, “इससे कुछ को मदद मिलेगी?” क्योंकि मुझे थोड़ा संदेह था। (जी हां, मास्टर।) ऐसी चक्र कैसे... मैंने पहले ही कुछ डाल दिया था। ( जी हां, मास्टर। ) पिछले साल। (ओह, वाह।) पिछले साल, लेकिन इस बार मुझे आश्चर्य हुआ कि क्या मुझे अधिक करना चाहिए क्योंकि यह बदत्तर हो रहा है, महामारी की तरह। ( जी हां, मास्टर। ) मैं नहीं चाहती कि अधिक लोग पीड़ित हों, बच्चे और बुजुर्गों और निर्दोष लोग जिन्हें ईर्ष्यालु भूतों के कारण नीचे घसीटा जा रहा है, उन्हें इस प्रकार के कर्मों को प्राप्त करने के लिए गलत कामों में धकेलने के लिए। (जी हां, मास्टर।) भले ही ईर्ष्यालु भूत इसे अपने शरीर में करते हैं और आत्मा बस… कुछ अतिरिक्त, कुछ के पास मेरी मदद करने के लिए पर्याप्त योग्यता नहीं होती है। (ओह।) या कुछ के पास है या बुरा करने के लिए मजबूर किया जाता है। भले ही उत्साही भूतों के नियंत्रण या कार्रवाई में, वे अभी भी जिम्मेदार हैं, किसी तरह। केवल कुछ अच्छे पुण्य और पश्चाताप और सच में निर्दोष हों, तो मैं उनकी आत्माओं को ऊपर ले जा सकती हूं।

 

तो अब, चक्र के भगवान, चक्र के भगवान, ने मुझे बताया, “जी हाँ।” मैंने कहा: “यह कुछ की मदद करेगा?” ओ यू (मूल ब्रह्मांड), इहोस कर, चक्र के भगवान, देवता। मैं यहां चक्र के देवता नहीं लिखती। लेकिन मैं आपको सिर्फ इतना बता रही हूं क्योंकि अब मैं उसके बारे में सोचती हूं। तो ओ यू (मूल ब्रह्मांड) चक्र के देवता ने कहा, “जी हाँ।” ( ठीक है। वाह। ) और वे कहते हैं, “प्यार की जीत होगी।” मैंने कहा, “यह प्यार कहाँ से आता है?” (ओह।) तो, चक्र के भगवान ने, मुझे फिर से बताया, और रिंग के इहोस कर देवता। सभी देवताओं के पास विभिन्न कार्यों की जिम्मेदारी है। (ठीक है, मास्टर।) इसलिए इस देवता के पास सुरक्षात्मक चक्र की देखभाल करने का काम था। ओह, एक पल, मैं वापस आती हूँ। (जी हां, मास्टर।) मुझे फोन को प्लग करना है। इसकी बिलकुल ऊर्जा नहीं है। बस हाथ वाले फोन को प्लग करें, ताकि आप मुझे देख सकें। मैंने खुद को रिकॉर्ड पर रखा। बाद में, मैं इसे आपको दे देती हूं। (गुरुजी, आपका धन्यवाद।) ताकि आप मुझे देख सकें और कर सकें जो आप चाहते हैं। लेकिन भले ही आप मुझे नहीं देखते, आप मुझे जानते हैं, सही? (जी हां, मास्टर।) मैं पिछली बार की तरह ही दिखती हूँ जब आपसे मिली थी। (ठीक है, मास्टर।) बस कुछ झुर्रियों और कुछ अधिक भूरे बालों हो गए हैं, फिर ठीक यह बिलकुल वैसा है जैसी मैं दिखती हूं।

 

“यह ‘प्यार’ कहाँ से आता है?” मैंने उद्धरण चिह्नों में “प्रेम” डाला। इसलिए, चक्र के देवता, क्योंकि हम पहले से ही बातचीत में थे, इसलिए उसने मुझे वैसे ही बताया, “पाय-ओ-योल।” मतलब “आपका प्यार।” (वाह।) मैंने कहा, “योल,” “योल क्या है?” क्योंकि मैं उस शब्द को पहले नहीं जानते थी। मैंने कुछ पुसु भाषा की जाँच की थी। ( जी हां, मास्टर।) लेकिन मैंने उन सभी की जांच नहीं की, इसलिए मैंने कहा, “योल क्या है?” यह वायी-ओ-ल लिखा है। (ओह।) उसने मुझे बताया योल, इसका मतलब है “आपका।” (ओह।) आप और आपका। मतलब मेरे लोग, मेरे कुछ लोग। मतलब इहोस कर के देवता। वे सच में मेरे लोग हैं। (जी हां, मास्टर।) बाकी को गोद लिया गया है। आप गोद लिए गए हो। लेकिन यह समान ही है। आप भी मेरी मदद कर रहे हैं। वे भी मेरी मदद कर रहे हैं। तो इसका मतलब है, आपका (पाय) प्रेम, मेरा (ओ) प्रेम, आपका ‘(योल) प्रेम। इसका मतलब आपके लोग। आपके। मैंने कहा, “एक अच्छे सपने की तरह लग रहा है। जब सभी एक दूसरे से प्यार करते हैं ?! प्रश्न चिन्ह। विस्मयादिबोधक चिह्न। और वह प्रेम इसे भी हरा देगा? वाह! और इसमें लगते हैं…? मैंने कहा, “यह बहुत लंबा है। इस बीच कितने मर जाएँगे?” (ओह।) चार मिलियन, कम या ज्यादा। (ओह।)

 

मैंने कहा, “कृपया जानकारी देवता, बताएं कौन उपचार करता है या उपचार जानता है, बहुत सारा काम।” मैंने उससे कहा कि मुझे बताओ कौन चंगा कर सकता है, चिकित्सा करने वाले देवता। तो जो भी उपचार करना जानता है। उसने मुझे बताया। फिर मैंने कहा, “बहुत सारा काम। मैं भूल गयी, जानकारी के देवता, मैं भूल गयी, वह कौन से भगवान हैं? ठीक कौन करता है।” तो जानकारी के देवता ने कहा, “विश्व-कल्याण की देवी।” (वाह।) मैंने कहा, “मुझे अब याद है, विश्व-कल्याण की देवी।” मैंने उससे पूछा, विश्व-कल्याण की देवी, “क्या दुनिया में इस वायरस के खिलाफ दवा होगी, या क्या?” प्रश्न चिन्ह। विश्व-कल्याण की देवी, उद्धरण चिह्नों में। “वायरस के लिए, वैक्सीन दुनिया में उत्साह से विकसित होगी।” ऐसा वे इसे कहते हैं। उन्हें कहना चाहिए, “दुनिया वायरस के लिए उत्साह से वैक्सीन विकसित करेगी।” तो मैंने पूछा, “कब?” विश्व-कल्याण की देवी ने कहा, “…।” हे भगवान। (ओह।) तो, मैंने कहा, “क्या, क्या!!!!!” विस्मयादिबोधक चिह्न, कई। “बेहतर तरीका खोजना चाहिए !!!!” कई विस्मयादिबोधक चिह्न। (ओह, मास्टर।) उस का अंत।

 

मैंने यहाँ लिखा कि किसी साँप ने मेरे कुत्ते रेनी को भी मारने के लिए आकर्षित करने की कोशिश की। (ओह।) उस दिन सांप वहां आया और फिर रेनी उससे मंत्रमुग्ध हो रहा था और फिर वहीं बैठकर सुना। मैंने उनसे कहा, “जल्दी से उसे ले जाओ!” मैंने रेनी से कहा, “सुनो नहीं। नहीं सुनो।” क्योंकि रेनी ने कहा कि सांप ने उसे बताया कि अगर वह मरने के लिए तैयार है, तो यह विश्व शांति लाएगा। मैंने रेनी से कहा, “नहीं, नहीं, नहीं! ईश्वर शांति बनाता है, कुत्ता नहीं। ठीक है? साँप को नहीं सुनो। यहाँ आओ। घर वापस आओ। जल्दी से! इसे छोड़ो! यदि आप सांप को देखते हैं, आप भाग जाओ। ठीक है? सांप आपसे धीमा है। आप बस दौड़ो!” इसलिए, अब मुझे कुत्तों के कार्यक्रम को बदलना होगा। पहाड़ी के नीचे खिलाना। निचले पहाड़ी कमरों की बजाय। लेकिन मैंने इसे दूसरे समय में पहले ही बदल दिया। जब मैंने उनसे कहा, “यदि आप साँप को देखते हैं, तो आप बस दौड़ेंगे। आप सुनेंगे नहीं। आप वहां बैठकर उनको नहीं सुनना। वे झूठ बोल रहे हैं। वे धोखा दे रहे हैं। वे माया, शैतान के लिए काम कर रहे हैं।” इसलिए अगली बार जब सहायक उन्हें बाहर लेने के लिए आया, वे मेरी जगह में अंदर ही रहे। और मैंने कहा, “जाओ, जाओ, जाओ। अब बाहर जाओ। यह बाहर जाने और फिर खाने और चलने का समय है।” उन्होंने कहा, “नहीं, वहाँ बाहर एक सांप है। हम बाहर नहीं जाना चाहते।” इसलिए मुझे उनकी जगह बदलकर दूसरे क्षेत्र में करना पड़ा। वे बहुत प्यारे हैं। बहुत सुंदर। दोनों मेरे क्षेत्र में भाग रहे हैं। मेरे दूसरे कमरे के बाहर उनका एक अलग कमरा है। मैं एक कमरे में रहती हूं, वे एक दूसरे कमरे में रहते हैं एक दूसरे के बग़ल में। वैसे भी एक योजक बड़ा दरवाजा है, इसलिए वे अंदर और बाहर आते हैं, मैं अंदर और बाहर आती हूं। परिचारक आए, और वे मेरे कमरे में भाग गए। वे कहते हैं, “बाहर एक साँप है, हम बाहर नहीं जाना चाहते हैं।” कितना प्यार। मुझे कहीं भी कोई सांप दिखाई नहीं दिया, लेकिन वे कहीं भी छिपे हुए हो सकते हैं, इसलिए मैंने उनका स्थान बदल दिया, उन्हे बाहर जाने और उस क्षेत्र में और नहीं जाने के लिए। मैंने इहोस कर को कहा, “इन सभी साँपों को मेरे कुत्तों और मेरे आस-पास से दूर भगा दो।” अभी भी उत्साही भूत, वे दूर से काम कर सकते हैं। (जी हाँ।) वे सांपों को वहां भेज सकते हैं, और एक ने लगभग मुझे काट दिया था अगर यह पक्षी लिए नहीं होता (ओह, मास्टर) जिसने मुझे बचाया।

 

जब वह पहली बार आया था, वह बहुत छोटा था। शिशु पक्षी। मैंने कहा, “यह पक्षी यहाँ आया, क्या इसका कोई कारण है?” मुझे बताया गया कि वह मेरी रक्षा करने के लिए वहां है। तो मैंने कहा, “इतना छोटा पक्षी मेरी रक्षा कैसे कर सकता है?” मुझे कई बार उसकी रक्षा करनी पड़ी। मुझे उसे उठाना पड़ा और उसने मुझे करने दिया। उसने मुझे उसे सहलाने दिया और वह सब। लेकिन मैं नहीं चाहती थी कि वह मेरा बहुत आदि हो। (जी हां मास्टर।) मैं चाहती हूं कि वह अपनी स्वतंत्रता का आनंद लें। एक जंगली पक्षी के रूप में। इसलिए मैंने उससे बहुत संपर्क न करने की कोशिश की। केवल जब वह मुसीबत में होता है, तब मैं उसे उठाती हूं, उसे कहीं और ले आती हूं। उसे ऊपर ऊँचा रखती हूँ। (ओह।) ताकि कुत्ते उसका पीछा नहीं करें, उदाहरण के लिए जैसे। और मैंने उसे दीक्षा दी और उसे कहा, “अपना ध्यान रखना।” (वाह।) क्योंकि वह एक जंगली पक्षी है। उसे अपनी आज़ादी का आनंद लेना चाहिए कहीं भी उड़ने के लिए जहां उसे पसंद हो (जी हाँ) और उसकी एक प्रेमिका और वह सब हो। बच्चे और वह सब। वही मैं सोच रही थी। मैं खुद को बहुत ज्यादा लिप्त नहीं होने देती हूँ, लेकिन मैं उससे प्यार करती हूं। मैं उसे बहुत प्यार करती हूँ। कभी-कभी मैं उसे बुलाती हूं जब मैं वापस हिसु आती हूं। मैंने उसे बुलाती हूँ, “डी क्या आप अभी भी यहाँ हो? आप कहाँ हैं? आप कहाँ हैं?” कभी-कभी वह मुझे जवाब देता है। वह कहता है, “दूर। बहुत दूर।” (ओह।) कभी-कभी वह कहता है, “निकट।”

 

मैं आपको बहुत सी बातें बताती हूं। (गुरुजी, आपका धन्यवाद।) मुझे यकीन नहीं है कि हम सुप्रीम मास्टर टीवी पर यह सब बता सकते हैं, लेकिन आपने मुझे आपके लिए पढ़ने के लिए कहा है ... यह हमेशा के लिए है, इसलिए मुझे लगता है कि हम अब रुक जाते हैं। तो मैंने सोचा आपके पास प्रश्न हैं, इसलिए मैंने आपको बुलाया है। (हमारे पास हैं। हमारे पास प्रश्न हैं।) वैसे भी, यदि आपके कोई प्रश्न नहीं भी हों, मैं आपको कभी-कभी फोन करती हूं, बस आपको यह बताने के लिए कि मैं अभी भी यहां हूं और मैं आपके बारे में सोचती हूं। (ओह। आपका धन्यवाद, मास्टर। बहुत धन्यवाद। हम इसकी सराहना करते हैं।)

और देखें
प्रकरण
सूची
साँझा करें
साँझा करें
एम्बेड
इस समय शुरू करें
डाउनलोड
मोबाइल
मोबाइल
आईफ़ोन
एंड्रॉयड
मोबाइल ब्राउज़र में देखें
GO
GO
ऐप
QR कोड स्कैन करें, या डाउनलोड करने के लिए सही फोन सिस्टम चुनें
आईफ़ोन
एंड्रॉयड