आगे

मास्टर और शिष्यों के बीच

टिम को टू का प्रेम विजयी होगा, नौ भाग शृंखला का भाग १

2020-06-29
भाषा:English

प्रकरण

विवरण
डाउनलोड Docx
और पढो

मैन स्वर्ग से पूछ रही थी, "क्या कुछ और है जो मैं कर सकती हूँ या शायद मैंने पर्याप्त नहीं किया इसलिए विश्व ऐसा है?" तो उन्होंने कहा, "यह आपकी गलती नहीं है कि विश्व शांतिपूर्ण और विनम्र शैली का अनुसरण नहीं कर रहा है। ज़ालिम राक्षस सभी परेशानी के पीछे के अपराधी हैं। अभी भी उनमें से कुछ हैं।" मैंने कहा यहाँ, "इसीलिए मैंने उन्हें जाने का आदेश दिया। तो, मैंने अपना सर्वोत्तम किया।"

 

(नमस्ते गुरुजी!) आप सभी कैसे हैं, राजकुमारियाँ, कैसी हैं? (हम बहुत अच्छे हैं, मास्टर। ) हाँ। ( आप कैसे हैं, मास्टर? ) मैं ठीक हूँ। जीवित हूँ। (ओह।) ध्यान करते। कुछ कहानियाँ पढ़ते अगर हम कभी-कभी बाहर निकल सकें। मैं इसे आप लोगों के लिए पढ़ सकती हूँ, (ओह! वह बहुत अच्छा होगा।) और अन्य लोग। और काम करते। बहुत काम करना है। कल्पना कीजिए कि मैं एकांतवास में हूं और वे मुझसे सुप्रीम मास्टर टेलीविजन के लिए काम करवाते हैं। (ओह।) लिखते, कार्यक्रम जाँच करवाते और चीज़ें करवाते। (यह बहुत काम है।) पिछली बार जब मैंने ख़्याल नहीं रखा, जब मैं एकांतवास में थी, तो यह सब उतना अच्छा नहीं था। याद है? (जी हां, मास्टर।) ( हमें चैनल अच्छी तरह से चलाने के लिए मास्टर की आवश्यकता है। ) मुझे नहीं पता। हाँ, शायद यह मदद करता है। अधिक लोग जल्दी काम खत्म करते हैं। (जी हां, मास्टर।) ( क्या मास्टर के पास अपनी गहन एकांतवास से हमारे साथ साँझा करने के लिए कोई अंतर्दृष्टि है? ) हाँ, काफी कुछ हैं, सिर्फ यह कि मैं हमेशा साँझा नहीं कर सकती। मैं देखती हूँ, कि और क्या है। ठीक है? (गुरुजी, आपका धन्यवाद।) संसार का कर्म हमेशा सुखद नहीं होता। जब मैं अपने स्नानघर के दर्पण में देखती हूं, मैं अच्छी दिखती हूँ। यहाँ, मैं अच्छी नहीं दिख रही हूँ। ( मास्टर हमेशा बहुत अच्छे दिखते हैं। ) धन्यवाद।

 

मैं एक प्रकार से दुखी थी, और मैं स्वर्ग से पूछ रही थी, “क्या कुछ और है जो मैं कर सकती हूं या शायद मैंने पर्याप्त नहीं किया है इसलिए दुनिया ऐसी है?” तो वे कहते हैं, “यह आपकी गलती नहीं है कि दुनिया शांतिपूर्ण और महान शैली का पालन नहीं कर रही है। ईर्ष्यालु राक्षस सभी परेशानियों के पीछे दोषी हैं। अभी भी उनमें से कुछ हैं।” मैंने यहाँ कहा, “इसलिए मैंने उन्हें जाने का आदेश दिया। तो, मैंने अपना सर्वश्रेष्ठ किया है।” (जी हां, मास्टर।) और उनका धन्यवाद करते। और उन्होंने मुझसे कहा, “अपने आस-पास किसी भी व्यक्ति या कार्यकर्ता को नहीं आने दो।” मेरे निकट। (वाह। ओह।) मतलब, आप लोग या आपमें से कोई। मैंने कहा, “वे कितने निकट हो सकते हैं?” उन्होंने कहा, “कम से कम नौ मीटर दूर।” (वाह।) लगता है जैसे उन्हें एलर्जी हो। कई अन्य चीजें हैं, मैं कह नहीं सकती। मेरे पास हाल ही में थोड़ी अधिक स्वतंत्रता है, क्योंकि मैंने सीखा है कि सुप्रीम मास्टर टीवी का काम करते समय कंप्यूटर की देखभाल कैसे करते हैं। (या!) हाँ, तो, मैं थोड़ा बेहतर, अधिक स्वतंत्र महसूस करती हूँ। क्योंकि आश्रित होना आपके जीवन में सबसे खराब चीज हो सकती है। (जी हां, मास्टर।) मैंने इन बहुत से राक्षसों को जाने का आदेश दिया लेकिन कुछ अभी भी आसपास हैं। भले ही बहुत प्रतिशत नहीं, लेकिन अभी भी बहुत। (जी हां, मास्टर।) और वे अभी भी मुझे बहुत ज्यादा परेशान करने की कोशिश करते हैं। उस दिन, शनिवार 6 जून को, मैंने इहोस कर रक्षकों, और साथ ही अन्य देवताओं को भी आदेश दिया, जो भी कोई मदद कर सकता है, मैंने उन्हें सभी हानिकारक आत्माओं को नरक में खींचने का आदेश दिया। (वाह।) या चौथे स्तर पर अगर वे वास्तव में पश्चातापी हैं। यदि चौथे स्तर के भगवान को ठीक है, तो वे इस बीच ऊपर जा सकते हैं। या वहाँ हमेशा के लिए रह सकते हैं, मुझे कोई आपत्ति नहीं है।

 

मेरे पास कुछ अच्छी खबरें हैं, लेकिन मैं इस समय आपके साथ साँझा नहीं कर सकती क्योंकि मुझे चिंता है कि अगर मैं आपको बताऊंगी, यह विलंबित होगा या बिखर जाएगा। उस दिन, रक्षक ने मुझसे पूछा, “उत्साही राक्षसों ने नरमी की याचना की, क्या आप क्षमा नहीं करेंगे?” मैंने कहा, “ठीक है। अंतिम बार नरमी। केवल तीन और दिन ही। क्योंकि उन्होंने सभी प्राणियों के लिए जो किया है, उसे नष्ट कर देना चाहिए।” (वाह।) लेकिन अब अगर चौथे स्तर के भगवान उन्हें दयालुटा से स्वीकारते हैं, तो वे या तो वहां रह सकते हैं या नए (आध्यात्मिक) क्षेत्र में जा सकते हैं। (वाह।) यदि वे वास्तव में पश्चातापी हैं। (जी हां, मास्टर।) और मैंने इहोस कर से पूछा, “आपको सभी मिल गए हैं?” और उन्होंने कहा, “नहीं, अभी भी मनुष्यों और जानवरों में कुछ छिपे हुए हैं।” इंसानों और जानवरों के अंतराल में। तो मैंने कहा, “ठीक है, पहले निर्देश के अनुसार उन लोगों से निपटें। उन्हें मेरी दृष्टि से बाहर निकालो।” वैसे उदाहरण के लिए। इसलिए, 10,000 उत्साही आत्माएं और बुरे भूत और राक्षस अभी भी पृथ्वी पर हैं। वह 5 जून को था। और फिर एक दिन, मैं सभी तथाकथित सजा से बहुत थक गयी थी। मैंने कहा, “क्या मैं वास्तव में इसके लायक हूं?” मेरा मतलब, यह ऐसा नहीं है कि मैं मर रही हूं या घायल या कुछ, लेकिन अभी भी बहुत मानसिक उत्पीड़न है। कष्ट। इसलिए ओ यू (मूल ब्रह्मांड) रक्षक ने मुझसे कहा, “किसी के साथ भी उतना बुरा व्यवहार नहीं होना चाहिए जैसे आपके साथ हुआ है।” ( जी हाँ।) तो मैंने कहा, “हाँ, मुझे पता है। मुझे बताने के लिए धन्यवाद कुछ जो मुझे पता था। लेकिन आपकी सहानुभूति के लिए धन्यवाद,” मैंने कहा। “कुछ करो। फिर सभी शैतानों से छुटकारा पाएं। फ़र्क़ नहीं, जब तक यह मदद करता है, मैं पीड़ित हो सकती हूं। फर्क नहीं पड़ता।” मैंने कहा, “मुझे परवाह नहीं।” मेरा मतलब मुझे परवाह है लेकिन मैं स्वीकार करती हूं। (गुरुजी, आपका धन्यवाद।) इसलिए उस दिन, 6 जून को, उन्होंने कहा कि अभी भी 10 से अधिक या कम हैं - इसका मतलब 11 या 12 हजार हो सकता है - जोशीली आत्माएं - समझे? (हाँ, गुरुजी।) अभी भी लटकी हुई। उन्होंने मुझसे कहा, “हम उन्हें प्राप्त करेंगे।” (वाह।) “आपके शिष्य ही आपको परेशान करने वाले नहीं है। यह उत्साही राक्षस हैं जो उन्हें धक्का देते हैं।” मैंने कहा, "मुझे पता है। मुझे वह सब पता है।" मुझे पता है, इसीलिए मैंने उन सभी को माफ कर दिया। ओह, कुछ अच्छी खबर है, लेकिन हम अभी बात नहीं कर सकते। मैं इसे आपको दिखाऊँगी जब यह आएगा। इसे मैं अपने लेखन में यहाँ दिखाऊँगी । ठीक है? (ठीक है, मास्टर! जी हाँ! आपका धन्यवाद।) मैंने सभी उत्साही आत्माओं से कहा, “तीन दिनों में ...” वह 6 जून को था, समय सीमा समाप्त हो गई है। कोई और अधिक उदारता नहीं। यदि उन्होंने तब तक पश्चाताप नहीं किया और बाहर आकर चौथे स्तर तक मुक्ति नहीं पायी है, फिर उनके पास कोई और मौका नहीं होगा। मैंने कहा, “आपने सभी प्राणियों के साथ जो किया है, उसके लिए आपको नष्ट होना चाहिए था। तो वह मौका है जो आपको मिलता है। कोई और संभावना नहीं।” ठीक है, वहाँ और क्या है ? ये तो अभी हाल की चीज़ें हैं। (जी हां, मास्टर।)

 

मेरे कुछ पक्षी मुझे भविष्य और पिछले जीवन की कुछ चीजों के बारे में बताते हैं। (वाह।) मैं “हर रोज़ व्यस्त हूं,” मैंने कहा। “जून 4. हर रोज़ व्यस्त, शिकायत करते कभी-कभी आराम करने के लिए बहुत कम समय होता है। (ओह। जी हाँ, मास्टर।) और कुछ अंदर की कार्य अच्छी तरह से नहीं किया गया, खत्म करने के लिए पर्याप्त समय नहीं है, पकड़ने के लिए। इसलिए मुझे रात में और गहन ध्यान करने के लिए पकड़ना होगा।” दिन के समय कई काम करने पड़ते हैं। दिन के समय में, केवल काम ही नहीं, ध्यान भी करना होता है। लेकिन कभी-कभी दिन में समय नहीं होता है, इसलिए रात के समय को पकड़ना पड़ता है। (समझे।) कभी-कभी बहुत थकी हुई, मैं सोच रही थी कि मुझे खाना चाहिए या सोना चाहिए। (ओह।) मुझे सोने या खाने के बीच चुनाव करना होगा। इसलिए मैं बस सो जाती हूं। कभी-कभी मैं बहुत थक जाती हूं।

 

और फिर मैं यहां डे के बारे में लिख रही थी, पक्षी जो मेरे बचाव में आया, उसने सांप को मार दिया, उसका कुछ हिस्सा खा लिया, ताकि नकारात्मक इसे एक प्रेत में नहीं बना दे। मैंने पहले ही आपको बताया था। (जी, मास्टर।) “हम अब उसकी क्लिप दिखा सकते हैं। उसने इसकी अनुमति दी, क्योंकि अब उसे कोई नुकसान नहीं पहुँचेगा। लोग इस प्रकार के बहुत सारे पक्षी देखते हैं, उसने कहा।” इससे पहले, वह एक प्रकार से विकलांग था, जब वह छोटा था, जब उसने मुझे देखा। उसे चिंता हुई कि लोग उसे पकड़ लेंगे, इसलिए उसने मुझसे कहा कि मैं उसकी फोटो टीवी पर या कहीं भी नहीं दिखाऊं। लेकिन अब, उसने कहा ठीक है। इसके अलावा, मैंने कहा, “यदि आप सांप को उस तरह से मारते हैं, तो क्या आपके लिए कोई कर्म होगा, बहुत बुरा?” उसने ना कहा, “नहीं, नहीं।” (वाह।) “नहीं। रक्षा करना मेरा काम है। वह एक बुरा है, इसलिए…” मैंने कहा, “आप मेरी उस तरह की रक्षा करते हैं, क्या आपका भी कोई कर्म होगा?” उसने कहा, “लेकिन पहले आपने मुझे सुरक्षा दी थी।” (वाह।) और ओ यू (मूल ब्रह्मांड) रक्षक ने भी मुझसे कहा कि, “आपने उसकी रक्षा की थी। तो यह ठीक है।” आप जानते हैं जैसे, मैंने पहले उसकी रक्षा की। (जी हां, मास्टर।) एक बार, मुझे उसे उठाकर ले जाना पड़ा क्योंकि कुछ कुत्ते बाहर निकल रहे थे और उसे डराने की कोशिश कर रहे थे, इसलिए मुझे कुत्तों को दूर भगाना पड़ा और उसे उठाना था। मैंने उसे कई बार उठाया, बस उसे कुछ से बचाने के लिए, कुछ झाड़ियों में उलझना और कुत्तों से और कुछ बड़े पक्षियों से भी। और मैंने उसे दीक्षा दी। ( ओह, वाह! ) अनुरोध पर । (वाह!) मैंने पक्षियों, विशेषकर जंगली पक्षियों को दीक्षा देने के बारे में कभी नहीं सोचा था, लेकिन मैंने उसे दिया। (वाह।) और मैंने उससे यह भी पूछा, “अन्य पक्षियों को कोई नुकसान जो आप के समान हैं? क्योंकि अगर हम आपको सुप्रीम मास्टर टीवी पर दिखाते हैं, तो अन्य प्रकार के पक्षियों को कोई नुकसान होता है या नहीं?” उसने कहा, “नहीं, शून्य।” ओह, नहीं, वह नहीं, यह ओ यू (मूल ब्रह्मांड) है रक्षक ने मुझे वह बताया। तो, इसीलिए मुझे यकीन था कि आप लोगों को बताऊं कि सुप्रीम मास्टर टीवी पर उसे दिखा सकते हैं। तो मैंने कहा, “बहुत धन्यवाद, रक्षको।” “मुझे चिंता थी...” मैं यहाँ पढ़ रही हूँ। ठीक है? (जी हां, मास्टर।) “मुझे चिंता थी कि यह उसे या उसके प्रकार के पक्षी को प्रभावित कर सकता है। मैंने उससे पूछा कि क्या उसका कोई साथी पहले से ही है। क्या वह अभी भी अकेला है? उसने कहा कि नहीं, उसका कोई साथी नहीं है। मुझे नहीं पता कि आप इस तरह की चीज़ों में रुचि रखते हैं या नहीं। यह आध्यात्मिक कुछ भी नहीं है। क्या यह ठीक है? आप चाहते हैं? ( जी हां, मास्टर! ) यह बस उससे मेरी बातचीत है। मुझे बस उसकी चिंता है, क्या वह ठीक है, अगर उसके पास सभी की तरह एक साथी है। उसने कहा नहीं। मैं उद्धरण चिह्नों में उद्धृत करती हूं, “अपने पूरे जीवन में एकल रहूँगा,” उसने कहा। (वाह।) “उसने मेरी रक्षा के लिए एक पक्षी के रूप में इस समय का पुनर्जन्म लिया। यही उसका एकमात्र उद्देश्य है, प्यार के लिए।” तो मैंने कहा, “धन्यवाद, डे। आपको आशीर्वाद।” (ओह, वाह। )(सुंदर।)

 

मुझे नहीं पता कि आपके लिए क्या पढ़ना है; वहाँ बहुत है। मुझे सोचना होगा। मुझे नहीं पता था कि आप यह पूछेंगे। मुझे नहीं पता, इसलिए मैंने ज्यादा तैयारी नहीं की थी। जैसे आएगा मैं बस वैसे ही पढ़ती हूं। (जी हाँ, मास्टर।) “शनिवार, 3 जून। पुरुषों को पूर्व खाली कार्यालय में भी ध्यान करने के लिए कहें, अच्छी तरह से अलग होने और जगह और आरामदायक होने के लिए।” ओह, यह मैं खुद को आपके भाइयों को बताने के लिए याद दिलाती हूं।

 

मैं सोच रही हूँ कि क्या मैं यह दुनिया को यह बता सकती हूं, चीजें जो मैं यहां लिख रही हूं। मैंने इसे खुद के लिए लिखा है। “अगर मैं इसे दुनिया को बताती हूं, ठीक है?” तो अब मुझे पूछना पड़ेगा। क्योंकि मुझे नहीं लगता था कि मैं बताऊंगी। उस समय मैंने सिर्फ पूछा ठीक है या नहीं, लेकिन मुझे जवाब नहीं मिला। मुझे अभी पूछना है। धैर्य रखें। (आपका धन्यवाद, मास्टर।) कुछ उत्साही आत्माओं ने मुझे एक एसएमएस भेजा, कहा, “यह आप पर निर्भर करता है, कि आपके पास वीगन हैं या नहीं। आपको यह करना होगा, वह करें, हमारे लिए।” मैंने कहा, “ओह, भाग जाओ।” (हाँ!) “भाग जाओ। आप किससे बात कर रहे हो?” (जी हाँ, बिल्कुल।) ( उन्होंने क्या मांग की, मास्टर? ) ओह, बकवास। विश्व शांति के लिए, मैं अपने कुत्तों से प्यार नहीं कर सकती। (ओह!) मैं विश्व वीगन के लिए भी नहीं कर सकती हूँ। ब्लाह, ब्लाह। ( गुरुजी, इसीलिए यदि आप अपने कुत्ते को मिलते हो तो आप 15% आध्यात्मिक शक्ति और मनुष्यों की बचत शक्ति खो देंगे? ) हाँ। यह सच भी है लेकिन यह कुत्तों की वजह से नहीं है। ( फिर क्यों मास्टर? ) यह वे लोग हैं जिन्हें मेरे लिए कुत्तों को लाना है। (ओह!) यह उन लोगों के लिए है जो कुत्तों को लेने के लिए आना और जाना है, और उन्हें खिलाने के लिए ले जाना है, और वह सब। (ओह, अच्छा।) और सभी लोग उच्च स्तर पर या मेरी ऊर्जा से मेल नहीं खा रहे हैं, खासकर मेरे एकांतवास के समय में। (जी हां, मास्टर।) यह एक संवेदनशील समय है। (जी हां, मास्टर।) एकांतवास, आपको किसी को नहीं मिलना चाहिए, आपको टीवी नहीं देखना चाहिए, आपको कुछ भी नहीं देखना चाहिए जो आपको पसंद है, और वह सब। आपको पूरी दुनिया को पीछे छोड़ देना चाहिए। मुझे वास्तव में सुप्रीम मास्टर टेलीविजन के लिए भी काम नहीं करना चाहिए। काश, मुझे नहीं करना होता, क्योंकि मैं शरीर पर जल्दी ही वापस नहीं आती। (जी हां, मास्टर।) और कभी-कभी मैं कुछ पकड़ती हुँ और यह बिना किसी कारण के मेरे हाथ से गिर जाता है, जैसे कि मैंने इसे नहीं पकड़ा ही नहीं था। मेरा टेलीफोन हर समय गिरता रहता है, आप जानते हैं, हाथ वाला फोन? (जी हां, मास्टर।) मैं कहती हूं, “क्षमा करें, फोन, मैंने इसे उद्देश्य से नहीं किया।” मुझे चिंता है कि फोन टूट जाएगा, लेकिन फोन इतना सख़्त था, आप इन आईफ़ोन को जानते हैं? (जी हाँ।) मैंने इसका कुछ हिस्सा सुप्रीम मास्टर टीवी के लिए इस्तेमाल करना सीख लिया है। सभी के लिए, मेरे लिए नहीं। मुझे किसी चीज में दिलचस्पी नहीं है।

और देखें
प्रकरण
सूची
साँझा करें
साँझा करें
एम्बेड
इस समय शुरू करें
डाउनलोड
मोबाइल
मोबाइल
आईफ़ोन
एंड्रॉयड
मोबाइल ब्राउज़र में देखें
GO
GO
ऐप
QR कोड स्कैन करें, या डाउनलोड करने के लिए सही फोन सिस्टम चुनें
आईफ़ोन
एंड्रॉयड